Wednesday, 26 February, 2020

HINDI PRACTICE PAPER – CTET/TET/POLICE/UPSSSC

CTET/HTET/CGTET-HINDI IMPORTANT QUESTIONS

HINDI PRACTICE PAPER – CTET/TET/POLICE/UPSSSC

 




किसे कहूँ मैं शिक्षा? क्या है शिक्षा का सच? कैसा होता है शिक्षित व्यक्ति और कैसा होता है पढ़ा-लिखा समाज? मेरे गुरु श्री दयालचन्द्र जी सोनी तो पूरी एक काव्यात्मक पुस्तक लिख गये | इस पुस्तक का नाम है ‘हूं अणभणियों शिक्षित हूँ’ । उनका आशय स्पष्ट है कि हर पढ़ा-लिखा आदमी अनपढ़ है। उन्होंने जब यह पुस्तक लिखी तो साफ कहा कि यह किताब उनके पूरे जीवन की शिक्षा का सार है। तब फिर हमें यह भी मान लेना चाहिए कि हमारा पूरा पढ़ा-लिखा समाज खासा अनपढ़ है। अशिक्षित है। तब फिर बताइए कि शिक्षा को कहाँ खोजें। कहते हैं कि शिक्षा बालक के जन्म के साथ बालक को मिली प्रतिभा का विकास है। उसकी सोयी हुई शक्तियों को जगाने का नाम शिक्षा है। मगर ऐसा तो तब सम्भव है जब हम यह जान लें कि कौन-कौन सा बालक कौन-कौन सी प्रतिभा के साथ पैदा हुआ है? उसके शरीर में एवं उसके मन-मस्तिष्क में कौन-कौन सी शक्तियाँ सोयी हुई हैं? इसका अर्थ यह हुआ कि जो-जो बालक शाला में आया है उसको हम पहले पढ़ें। हर बालक को पढ़-पढ़ कर पहचानें कि वह क्या है? उसकी प्रदत्त प्रतिभा क्या है? और कौन-कौन सी सुषुप्त शक्तियों को लिये हुए वह हमारे सामने उपस्थित हुआ है। 

1. बच्चों को शिक्षा देने के लिए सबसे पहले क्या जरूरी है?

(A) बच्चों को प्रतिभाओं के अनुसार वर्गीकृत करना।

(B) बच्चों की समस्त क्षमताओं, प्रतिभाओं को जानने के लिए उन्हें पढ़ना।

(C) बच्चों को पढ़ाना। 

(D) प्रतिभाओं के विभिन्न रूप जानना ।

 

2. इस गद्यांश में शिक्षा का कौन-सा सिद्धांत निहित है

(A) सभी बच्चों में वैयक्तिक भिन्नता होती है।

(B) शक्तियाँ सदैव सुषुप्त अवस्था में ही रहती हैं।

(C) पढ़े-लिखे लोग अनपढ़ होते हैं।

(D) सभी बच्चे समान रूप से प्रतिभाशाली होते है।

 

3. ‘हर बालक को पढ़-पढ़ कर पहचानें कि वह क्या है?’ वाक्य में ‘पहचानें’ क्रिया का कर्त्ता हो सकता है

(A) हम 

(B) तुम

(C) वह

(D) मैं

 

34. ‘उसकी प्रदत्त प्रतिभा क्या है?’ वाक्य है 

(A) नकारात्मक

(B) प्रश्नवाचक .

(C) संदेहवाचक

(D) विधानवाचक

 

5. ‘शरीर’ में ‘इक’ प्रत्यय लगने पर शब्द बनेगा

(A) शारीरीक

(B) शारीरिक

(C) शारिरिक

(D) शरीरिक

 

6. लेखक के अनुसार शिक्षित होना और साक्षर होना

(A) दोनों में मूलभूत अंतर होता है

(B) दोनों पर्यायवाची हैं।

(C) दोनों में थोड़ा-बहुत अंतर है। 

(D) दोनों समान हैं।

 

7. यहाँ ‘पढ़ा-लिखा होने से तात्पर्य है 

(A) अशिक्षित होना

(B) साक्षर होना 

(C) निरक्षर होना

(D) शिक्षित होना

 

8. ‘शिक्षा’ का अर्थ है 

(A) बच्चों को केवल अक्षर ज्ञान देना। 

(B) बच्चों को शक्तिशाली बनाना।

(C) बच्चों में विद्यमान शक्तियों को प्रस्फुटित करना।

(D) बच्चों को जानकारी देना।

 

9. लेखक के अनुसार 

(A) बच्चों में अलग-अलग प्रतिभा होती है।

 (B) सभी बच्चे शाला जाकर प्रतिभाशाली बन जाते हैं।

(C) सभी बच्चों की शक्तियाँ सुषुप्त अवस्था में ही रहती हैं।

(D) सभी बच्चे समान रूप से प्रतिभाशाली होते 



 

मेघ आए, बड़े बन-ठन के सँवर के आगे-आगे नाचती-गाती बयार चली दरवाजे-खिड़कियाँ खुलने लगीं गली-गली पाहुन ज्यों आए हों गाँव में शहर के। मेघ आए बड़े बन ठन के सँवर के पेड़ झुक झाँकने लगे गरदन उचकाए आँधी चली, धूल भागी घाघरा उठाए, बाँकी चितवन उठा नदी ठिठकी चूँघट सरके। मेघ आए बड़े बन ठन के सँवर के। बूढ़े पीपल ने आगे बढ़कर जुहार की बरस बाद सुधि लीन्ही बोली अकुलाई लता ओट हो किवार की हरसाया ताल लाया पानी परात भर के मेघ आए बड़े बन-ठन के सँवर के क्षितिज-अटारी गहराई दामिनी दमकी, क्षमा करो गाँठ खुल गई अब भरम की बाँध टूटा झर-झर मिलन के अश्रु ढरके, 

मेघ आए बड़े बन-ठन के सँवर के

10. ‘मेघ आए बड़े बन-ठन के सँवर के पंक्ति का भाव किसमें है?

(A) भूरे-काले बादल आकाश में घिर आए हैं

(B) बादलों ने सूरज को ढक लिया है

(C) बादलों ने बिजली से शृंगार किया है 

(D) बादल सज-धज कर आए हैं

 

11. मेघों के आने से लगता है 

(A) मानों कहीं उत्सव मनाया जा रहा है

(B) बादल आसमान में छा गए हैं

(C) मानो गाँव में शहर से मेहमान आए हों 

(D) उपर्युक्त में से कोई नहीं ।

 

12. ‘बरस बाद सुधि लीन्ही’ – इस पंक्ति का भाव किसमें है?

(A) बादल मेहमान बन कर आए हैं।

(B) बादल एक बरस के बाद आए हैं।

(C) बादलों ने याद किया है 

(D) बादल बन सँवर कर आए हैं

 

13. पूरी कविता में कौन-सा अलंकार है? 

(A) उत्प्रेक्षा अलंकार

(B) श्लेष अलंकार 

(C) रूपक अलंकार 

(D) मानवीकरण अलंकार

 

14. बूढ़े पीपल ने किस प्रकार मेघों का स्वागत किया? 

(A) उलाहना देकर 

(B) झुककर प्रणाम करके

(C) प्रसन्न होकर 

(D) गले लगाकर

 

15. ‘पाहुन’ शब्द का क्या अर्थ है? 

(A) पैर 

(B) आना

(C) पालना 

(D) मेहमान 

 

16. जीवनी और आत्मकथा विधाएँ बच्चों में की कुशलता विकसित करने में सहायक हैं।

(A) शब्दार्थ

(B) साँचा अभ्यास

(C) विभिन्न परिप्रेक्ष्यों में व्यक्ति के चरित्र का विश्लेषण

(D) कल्पना करने



17. भाषा की पाठ्यचर्या का निर्माण करते समय आप किसे सर्वाधिक महत्त्व देंगे?

(A) बच्चों के घर की भाषा और विद्यालय की भाषा में खाई न हो।

(B) मानक भाषा-प्रयोग संबंधी कठोर नियम ।

(C) आकलन संबंधी कठोर नियम । 

(D) पाठ्य-पुस्तक को अतिशीघ्र पूरा करना।

 

18. ‘भगवान भारतवर्ष में गूंजे हमारी भारती’ किस कवि की रचना की पंक्ति है?

(A) रामधारी सिंह ‘दिनकर’

(B) रामनरेश त्रिपाठी

(C) श्यामनारायण पाण्डेय 

(D) मैथिलीशरण गुप्त

 

19. ‘पहाड़ पर लालटेन’ किसकी रचना है? 

(A) रमेश चन्द्र शाह

(B) शिवानी 

(C) मंगलेश डबराल

(D) नागार्जुन

 

20. जयशंकर प्रसाद बहुत बड़े नाटककार थे। उन्होंने  नाटक की रचना की

(A) अजातशत्रु

(B) शशिगुप्त 

(C) झाँसी की रानी

(D) राजमुकुट

 

21. ‘प्राक्तन’ शब्द में उपसर्ग एवं मूल शब्द का सही विकल्प है

(A) प्रा + तन

(B) प्राक् + तन 

(C) पर् + तन

(D) प्रा + कतन

 

22. निम्न में से कौन-सा वर्ण स्पर्श संघर्षी है? 

(A) झ 

(B) श

(C) ट 

(D) ह

 

23. ‘कनक’ शब्द का अर्थ-समूह चुनिए 

(A) वृक्ष, स्वर्ण, धतूरा

(B) स्वर्ण, धतूरा, गेहूँ

(C) स्त्री, पलाश, आभूषण 

(D) कोई नहीं

 

24. निम्नलिखित पंक्तियों में कौन-सा अलंकार है? 

‘फूले कांस सकल महि छाई। जनु बरसा रितु प्रकट बुढ़ाई।’

(A) उपमा

(B) उत्प्रेक्षा 

(C) रूपक

(D) श्लेष

 

25. छायावादी प्रवृत्ति की रचना सबसे पहले दिखलाई पड़ी

(A) सुमित्रानन्दन पंत की कविता में।

(B) मुकुटधर पाण्डेय की रचनाओं में

(C) सूर्यकांत त्रिपाठी ‘निराला’ में। 

(D) श्रीधर पाठक में।




26. एक दूसरे से भिन्न-भिन्न, नये-नये विचारों एवं रचना शैलियों के जो सात कवि प्रयोगवाद के कवि के रूप में प्रसिद्ध हुए, उनकी कविताओं के संग्रह का सही नाम था 

(A) पहला तार सप्तक

(B) प्रथम तार सप्तक

(C) तार सप्तक 

(D) इनमें से कोई नहीं

 

27. “पढ़ना’ कौशल में सबसे ज्यादा महत्त्वपूर्ण है : 

(A) तेज गति से पढ़ना

(B) संदर्भानुसार अर्थ ग्रहण करना

(C) शब्दों-वाक्यों को शुद्ध रूप से उच्चरित करना

(D) केवल अक्षर पहचान

 

28. सुलेखा ने पाठ को पढ़ते हुए जीवन’ को ‘जिंदगी’ पढ़ा । यह इस ओर संकेत करता है कि

(A) सुलेखा ध्यान से नहीं पढ़ती

(B) वह अक्षर-पहचान की बजाय अर्थ को समझते हुए पढ़ रही है

(C) उसे अक्षरों की पहचान में भ्रम हो जाता है

(D) उसे केवल पठन-अभ्यास की बहुत आवश्यकता है

 

29. ‘उसने पढ़ा’ ‘उसने खाया। और उसने चीखा।’ जैसे भाषा-प्रयोग दर्शाते हैं

(A) नियमों का अति सामान्यीकरण

(B) नियम का उल्लंघन

(C) संदर्भ की समझ न होना 

(D) नियम कंठस्थ न होना

 

30. व्याकरण-शिक्षण के संदर्भ में कौन-सा कथन सही है?

(A) व्याकरण-शिक्षण अत्यंत आवश्यक है

(B) व्याकरण-शिक्षण के लिए समय-सारणी में अलग से काव्यांशों की व्यवस्था होनी चाहिए

(C) भाषा-प्रयोग की अपेक्षा भाषा-नियमों को ही महत्त्व देना चाहिए ।

(D) बच्चे परिवेश में उपलब्ध भाषिक प्रयोगों के आधार पर स्वयं भाषा के नियम बनाने की क्षमता रखते हैं 



 

LEARNING DISABILITY- अधिगम अक्षमता

हिन्दी साहित्य के कवियों के उपनाम

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
error: Content is protected !!