Friday, 28 February, 2020

भारत के प्रथम लोकपाल -पिनाकी घोष

भारत के प्रथम लोकपाल -पिनाकी घोष- भारत के वर्तमान लोकपाल कौन है

 

भारत के प्रथम लोकपाल -पिनाकी घोष

 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उच्चतम न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश पिनाकी घोष को देश का प्रथम लोकपाल नियुक्त किया है। उनका कार्यकाल 5 वर्ष का होगा। न्यायाधीश पिनाकी घोष राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के सदस्य रह चुके हैं। वर्ष 1952 में जन्में न्यायाधीश पिनाकी घोष पूर्व न्यायाधीश शम्भू चन्द्र घोष के पुत्र हैं। वर्ष 1997 में वह कलकत्ता उच्च न्यायालय में तथा दिसम्बर, 2012 में आन्ध्र प्रदेश उच्च न्यायालय में मुख्य न्यायाधीश बने। 8 मार्च, 2013 को वह उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश प्रोन्नत हुए और 27 मई, 2017 को उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश पद से सेवानिवृत्त हुए। 

 


लोकपाल के लिए अर्हता लोकपाल का अध्यक्ष प्रधान न्यायाधीश या पूर्व प्रधान न्यायाधीश उच्चतम न्यायालय का न्यायाधीश या पूर्व न्यायाधीश हो सकता है। किसी प्रसिद्ध शख्सियत को भी लोकपाल नियुक्त किया जा सकता है, यदि उसे 25 वर्ष तक एण्टी करप्शन पॉलिसी या पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन या सतर्कता या वित्त, बीमा बैंकिंग कानून अथवा प्रबन्धन का अनुभव हो। 



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
error: Content is protected !!